Lehron Se Darkar Nauka Paar Nahi Hoti Lesson Plan : हिंदी कविता पाठ योजना

0
77

Lehron Se Darkar Nauka Paar Nahi Hoti Lesson Plan : हिंदी कविता पाठ योजना

Hi Students, आज हम आपके लिए सूर्यकांत त्रिपाठी निराला की प्रसिद्द Hindi Kavita का Lesson Plan लेकर आये हैं | आज हम सूर्यकांत त्रिपाठी निराला की लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती का पाठ योजना लेकर आये हैं | Lehron Se Darkar Nauka Paar Nahi Hoti Lesson Plan 6th Class के लिए चाहने वाले सभी B.Ed और D.El.Ed Students यहाँ नीचे Hindi Kavita Lesson Plan देख सकते हैं :-

Lesson Plan का संक्षिप्त विवरण :-

  • Class : 6th Class
  • Subject : Hindi Grammar
  • Topic : Lehron Se Darkar Nauka Paar Nahi Hoti Lesson Plan
  • Type : Mega Teaching

Lehron Se Darkar Nauka Paar Nahi Hoti Lesson Plan

Date :  Duration Of The Peroid :
Pupils Teacher Name : Pupil Teacher’s Roll Number :
Class : Average Age Of the Pupils :
Subject : Topic :

 

सहायक सामग्री –

  • सामान्य – चौक, बोर्ड, झाड़न, संकेतिका, पुस्तक
  • विशिष्ट – चार्ट, मॉडल, रेडियो-स्लाइड
  • कविता लिखा हुआ चार्ट

पूर्वज्ञान परीक्षण 

प्रस्तावित प्रश्न संभावित उत्तर
मेहनत करने से क्या लाभ होता है ? जीवन में सफलता प्राप्त होती है |
यदि कभी असफलता देखने को मिले तो क्या-क्या करना चाहिए ? असफलता से डरना नहीं चाहिए |
इस जीवन में किसको कभी भी हार का मुंह नहीं देखना पड़ता ? जो मेहनत करते हैं |
क्या आपको मैंने से संबंधित कोई कविता आती है ? समस्यात्मक प्रश्न

 

उद्देश्य कथन – बच्चों! आज हम व्यक्ति को मेहनती होना और असफलता का मूल मंत्र है इस संबंध में एक व्यक्ति की कविता के भावार्थ का विस्तार पूर्वक अध्ययन करेंगे |

प्रस्तुतीकरण

क्रम संख्या शिक्षण बिंदु शिक्षण विधि छात्र अध्यापिका क्रियाएं छात्र क्रियाएं
1. लहरों से डरकर नौका पार नहीं होती आदर्श वाचन व व्याख्या विधि  कवि सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’ उद्यमशीलता की व्याख्या अपनी कविता शीर्षक –

‘कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती’ के माध्यम से सफलता प्राप्त करने का आदर्श प्रस्तुत करते हुए कहते हैं कि लहरों से घबराकर कभी नाव से समुंद्र को पार नहीं किया जा सकता है |

प्रश्न उत्तर

 

प्रश्न उत्तर

2. प्रश्न-उत्तर विधि संबंधित प्रश्न प्रस्तुत कविता के कवि कौन है ? सूर्यकान्त त्रिपाठी ‘निराला’
3. डुबकियां……. कोशिश करने वालों की व्याख्या विधि आगे कवि कहता है कि जिस प्रकार गोताखोर बार-बार समुद्र में डुबकी लगाते हैं, और कई बार हाथ खाली आते हैं बिना कुछ लिए वापस आ जाते हैं सहज ही मोती मिलना संभव नहीं है|

असफलता से हारने वाला मनुष्य पशु समान है |

4. प्रश्न-उत्तर विधि संबंधित प्रश्न पशु के समान कौन होता है | असफलता से हारने वाला मनुष्य
5. असफलता एक चुनौती है……  कोशिश करने वालों की हार नहीं होती | आदर्श वाचन व व्याख्या विधि

व्याख्या विधि

कवि निराला कहते हैं कि जीवन में असफलता एक चुनौती है इसे स्वीकार करना चाहिए | अपनी कमियों पर ध्यान देना चाहिए और सुधार किया जाए तो सफलता मिल सकती है | कवि का कथन है कि इस प्रकार संघर्षमय जीवन का मैदान  केवल असफलता देखकर नहीं छोड़ना चाहिए | इस जीवन रूपी मैदान में बिना संघर्ष का खेल जीते जय जयकार नहीं होती | प्रश्न उत्तर

 

 

 

प्रश्न उत्तर

6. संबंधित प्रश्न प्रश्न विधि जो कोशिश करते हैं उनकी कभी पराजय नहीं होती|
7. प्रश्न बच्चों किसकी हार कभी नहीं होती|

मूल्यांकन –

  1. चींटी कैसे मेहनत करती है|
  2. सफलता न मिलने पर क्या करना चाहिए ?
  3. मन का विश्वास रगों में साहस किस प्रकार भरेगा ?
  4. गोताखोर गहरे पानी में क्यों उतरते हैं ?

गृहकार्य –

  1. कविता का भावार्थ लिखो |
  2. विश्वास चढ़ना गहरा सफलता शब्दों का विलोम लिखो |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here