Varn Vyavastha (Swar Vyanjan) Lesson Plan : वर्ण व्यवस्था ( स्वर और व्यंजन ) पाठ योजना

0
97

Varn Vyavastha (Swar Vyanjan) Lesson Plan : वर्ण व्यवस्था ( स्वर और व्यंजन ) पाठ योजना

Varn Vyavastha Lesson Plan In Hindi : आज आपको हम Lesson Plan Series में वर्ण व्यवस्था ( स्वर और व्यंजन ) पाठ योजना [Varn Vyavastha (Swar Vyanjan) Lesson Plan ] को लेकर, जानकारी लेकर आये हैं | आप नीचे दिए गये दिए Lesson Plan की मदद से अपना अपनी File बना सकते हैं |

  • Class : 8th Class
  • Subject : Hindi Grammar
  • Topic : वर्ण व्यवस्था ( स्वर और व्यंजन )
  • Type : डिस्कशन

Varn Vyavastha Lesson Plan

Date :  Duration Of The Peroid :
Pupils Teacher Name : Pupil Teacher’s Roll Number :
Class : Average Age Of the Pupils :
Subject : Topic :

अनुदेशनात्मक उद्देश्य

पाठोपरांत विद्यार्थी –

  1. विद्यार्थी वर्ण एवं भाषा में प्रयोग होने वाले सभी प्रकार की उच्चारित मौखिक भाषा को जान पाएंगे | 
  2. भाषा में लिखित शब्दों के उच्चारण में उतार-चढ़ाव से परिचित होंगे |
  3. विद्यार्थी लिखित व मौखिक रूप से प्रयुक्त होने वाली भाषा में मात्राओं का ज्ञान प्राप्त कर सकेंगे |
  4. विद्यार्थी शब्द निर्माण की प्रक्रिया जान सकेंगे |
  5. विद्यार्थी दैनिक जीवन में प्रयुक्त होने वाली भाषा को आसानी से लिख व पढ़ पाएंगे |
  6. विद्यार्थी वर्ण व्यवस्था का संश्लेषण कर पाएंगे |

सहायक सामग्री –

  • सामान्य – चौक, बोर्ड, झाड़न, संकेतिका, पुस्तक
  • विशिष्ट – चार्ट, मॉडल, रेडियो-स्लाइड
  • वर्णों का चार्ट

पूर्वज्ञान परीक्षण 

प्रस्तावित प्रश्न संभावित उत्तर
भाषा में प्रयुक्त होने वाले ध्वनियों को क्या कहा जाता है ?  वर्ण
क्या वर्ण और अक्षर में अंतर होता है ? हाँ
अक्षर किसे कहते हैं ? शब्दों के समुदाय को
भाषा में वर्ण और अक्षर दोनों का प्रयोग होता है ? हाँ
वर्णों के समुदाय को क्या कहते हैं ?  समस्यात्मक  प्रश्न

 

उद्देश्य कथन – बच्चों ! आज हम भाषा में प्रयुक्त वर्ण व्यवस्था के बारे में चर्चा करेंगे तथा वर्ण के विभिन्न समुदाय व वर्गीकरण के बारे में पढ़ेंगे |

प्रस्तुतीकरण 

क्रम संख्या शिक्षण बिंदु शिक्षण विधि छात्र अध्यापिका क्रियाएं  

छात्र क्रियाएं

 

1. वर्ण प्रदर्शन व व्याख्या विधि भाषा की सबसे छोटी इकाई वर्ण है | इन वर्णों के संयोग से शब्दों का निर्माण होता है | वर्ण का प्रयोग ध्वनि  और ध्वनि चिन्ह दोनों के लिए किया जाता है, क्योंकि ध्वनियों के उच्चारण और लिखित दोनों रूपों के प्रतीक हैं | इन वर्णों को वर्णमाला कहते हैं |
2. वर्णों के प्रकार  प्रदर्शन विधि उच्चारण की दृष्टि से हिंदी वर्णमाला को दो भागों में बांटा जाता है –

स्वर

व्यंजन

3. स्वर  प्रदर्शन विधि स्वर उन वर्णों को कहते हैं जिन का उच्चारण स्वतंत्रता से हो सकता है, ये व्यंजनों के उच्चारण में भी सहायक है | इनके उच्चारण में स्वास वायु बिना किसी रूकावट के मुख से निकलती है |

स्वरों की विशेषता है कि जब यह व्यंजनों से मिलते हैं तो मात्रा बन जाते हैं स्वर संख्या में 11 हैं |

स्वर इस प्रकार हैं – अ, आ, इ, ई, उ, ऊ, ऋ, ए, ऐ, ओ, औ

4. स्वर के भेद प्रदर्शन व व्याख्या विधि उच्चारण के आधार पर स्वरों के दो प्रकार हैं –

हस्व स्वर

दीर्घ स्वर

5. हस्व स्वर

हस्व ऋ का प्रयोग

व्याख्या विधि

प्रदर्शन विधि

जिन स्वरों को सबसे कम समय में उच्चारित किया जाता है, उन्हें हस्व स्वर कहते हैं |

हस्व स्वर है – अ, इ, उ, ऋ इनके उच्चारण में जो समय लगता है, उसे एक मात्रा कहते है | ऋ का प्रयोग केवल संस्कृत ( तत्सम ) शब्दों में किया जाता है इन्हें मूल स्वर भी कहते हैं |

6. दीर्घ स्वर प्रदर्शन व व्याख्या विधि जिन स्वरों में उच्चारण करते समय हस्व स्वर से अधिक ( दो मात्रा ) का समय लगता है, उन्हें ‘दीर्घ स्वर’ कहते हैं |

आ, ई, ऊ, ऐ, ए, ओ, औ |

7. अनुनासिक व अनुस्वार  स्वर व्याख्या विधि

 

 अनुस्वार व अनुनासिक स्वर में स्वास केवल नाक से निकलती है जबकि अनुनासिक में मुंह और नाक दोनों से |

अनुस्वार तीव्र व अनुनासिक धीमी ध्वनि है |

इनके उच्चारण में पूर्वर्ती स्वर की आवश्यकता होती है |

मूल्यांकन –

  1. भाषा की सबसे छोटी इकाई क्या है ?
  2. वर्णों के संयोग से किसका निर्माण होता है ?
  3. वर्णों के समूहो को क्या कहते हैं ?
  4. स्वरों के प्रकार लिखो ?  गौण व्यंजन कौन-कौन से हैं ?

गृहकार्य –

  1. क वर्ग, च वर्ग, ट वर्ग, त वर्ग व प वर्ग के सभी व्यंजनों को लिखो ?
  2. वर्णों के समूह के बारे में लिखो ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here